Truth Manthan

Hard Work – The Most Powerful Way to Get Rich Hindi Story (कड़ी मेहनत – अमीर बनने का सबसे पावरफुल रास्ता हिन्दी कहानी )

Spread the love

Success cannot be imagined in life without hard work. Only hard work and good understanding can make a person a rich man. People who hit shortcuts to succeed. They do not get success but are trapped in such a swamp. Due to which, his life is at a worse turn than before. So do not hit a shortcut to succeed in life. Work hard and use good thinking. No power in the world can stop such a person from succeeding.

रमेश और जीवन बहुत ही गहरे मित्र थे। अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद दोनों को किसी तरह की नौकरी नहीं मिली हालांकि पढ़ाई में दोनों ही बहुत अच्छे थे लेकिन कुछ हालातों को देखकर नौकरी लेने में असफल रहे। उन्होंने कई परीक्षाएं तो पास की लेकिन आज के समय में नौकरी मिलना कितना कठिन है। यह तो वही लोग जान सकते हैं जो प्रतियोगी परीक्षा में भाग लेते हैं। सालों अपने रिजल्ट का इंतजार करते हैं। जब रिजल्ट आता है तब तक उनकी उम्र अधिक हो चुकी होती है।

सरकारें भी नौकरी देने से ज्यादा छात्रों से धन की उगाही करने में लगी हुई हैं। रमेश और जीवन ने सोचा कि अब हम लोग नौकरी नहीं करेंगे। नौकरी की जगह अपना-अपना कोई बिजनेस खोलेंगे। उसी से रोजी-रोटी चलाएंगे। रमेश और जीवन के पास इतना पैसा भी नहीं था कि कोई अच्छा खासा बिजनेस खोल सकते। इसका मुख्य कारण था, दोनों के माता पिता बहुत ही गरीब थे। पेट पालना भी बहुत ही मुश्किल था। इसी कारण रमेश और जीवन में जो कुछ पैसे इकट्ठे किए थे उसी से अपना बिजनेस शुरू किया।

ये भी पढ़ें :

छुआछूत-12 साल के लड़के के साथ घटी एक दिल दहला देने वाली घटना

रमेश ने लकड़ी का बिजनेस शुरू किया और जीवन राम ने भी लकड़ी का बिजनेस शुरू किया। रमेश ने 1 महीने तक लकड़ी का बिजनेस जारी रखा लेकिन एक महीने बाद कुछ ज्यादा फायदा ना होने के कारण उसे बंद कर दिया। जीवन राम ने अपने बिजनेस को चालू रखा। उसकी कमाई ज्यादा नहीं थी किंतु वह जानता था की लकड़ी का महत्व बहुत ज्यादा है। इसलिए किसी न किसी दिन मेरा बिजनेस बहुत बड़ा हो जाएगा।

कई साल बीत गए रमेश अपने बिजनेस खोलता और ज्यादा फायदा ना होने के कारण बंद कर देता। इसी तरह वह उसी जगह पर बना रहा जहां पर से उसने शुरुआत की थी। जीवन राम लकड़ी का अभी भी व्यवसाय कर रहा था। अब लकड़ी बेचने के साथ-साथ उसने इमारती लकड़ी, फर्नीचर बनाना इत्यादि लकड़ी की बहुत सी दुकानें खोल रखी थी। उसके पास उसके शहर से ही नहीं काफी दूर-दूर से लोग लकड़ी की वस्तुएं और इमारती लकड़ी को लेने के लिए आते थे। वह धीरे धीरे करोड़पति बन गया।

रमेश अपने बिजनेस मैं तत्काल फायदा चाहता था। इसलिए वह किसी बिजनेस में स्थाई रूप से काम नहीं कर सकता। जिसके फलस्वरूप उसने कई बिजनेस बदले और रमेश ने जहां से अपना बिजनेस शुरू किया था वहीं पर बना रहा। वह आज 10 साल बाद भी उसी स्थिति में है जिस स्थिति में उसने और जीवन राम ने अपना-अपना व्यवसाय शुरू किया था। दूसरी तरफ जीवन राम करोड़पति बन गया। अब उसकी दुकान उसके ही शहर नहीं बड़े-बड़े शहरों में खुल गईं थीं। लकड़ी का वह ब्रांडेड विक्रेता बन चुका था। उसके पास बहुत बड़े बड़े शहरों से ऑर्डर आते थे।

ये भी पढ़ें :

Self Improvement : खुद को सुधारने के सबसे बेहतरीन टिप्स

एक दिन रमेश और जीवन राम की मुलाकात हो गई। रमेश पहले तो जीवन राम को पहचान नहीं पाया। लेकिन जीवन राम ने रमेश को पहचान लिया। उसने कहा कैसे हो रमेश भाई, रमेश ने कहा सर मैंने आपको पहचाना नहीं ? जीवन राम ने कहा यार भूल गए मैं तुम्हारे बचपन का मित्र जीवन राम हूं। जीवन राम के ठाठ बाट देखकर रमेश उससे लिपट कर रोने लगा। रमेश ने जीवनराम से कहा मैंने पचासों बिजनेस खोलें लेकिन मुझे किसी में फायदा नहीं हुआ।

जीवन राम ने कहा मित्र रमेश किसी भी बिजनेस को शुरू करते समय बहुत बड़ा फायदा नहीं होता। किसी भी बिजनेसमैन का उदाहरण लेकर देख लो उनकी शुरुआत छोटे बिजनेस से ही रही है। उन्होंने अपना धैर्य नहीं छोड़ा, कठिन मेहनत की और आज अरबों के मालिक हैं। यही मैंने भी किया। मैं जानता था शुरुआत में मुझे काफी समस्याएं भी आ सकती हैं। दिन मेहनत भी करनी पड़ सकती है। फायदे की जगह नुकसान भी हो सकता है। मैं इसके बावजूद भी मेहनत करता रहा। धीरे धीरे जब लोगों का मेरे प्रति विश्वास बड़ा। मैंने अच्छा उत्पाद लोगों को देना शुरू किया तो लोगों ने दूसरों की दुकानों को छोड़कर मेरी दुकान को पकड़ लिया।

आज मेरी एक नहीं 50 से ज्यादा दुकानें हैं और सभी दुकाने लकड़ी का ही व्यवसाय करते हैं। रमेश तुम तुरंत अमीर बनना चाहते थे। तुमने कड़ी मेहनत नहीं की इसलिए तुम वही के वही बने रहे जहां से तुम ने शुरुआत की थी। शायद तुम्हें इस बात की जानकारी नहीं है। अमीर बनने के लिए जिंदगी में कोई शॉर्टकट नहीं है। शॉर्टकट मारने वाले लोग या तो बुरी आदतों में फंस जाते हैं या फिर बुरे कामों में।

ये भी पढ़ें :

खंजर – एक बेहद खतरनाक प्रेम कहानी

इसलिए आज भी तुम्हारे पास समय है। किसी भी व्यवसाय को शुरू करो उसको धीरे-धीरे बढ़ाओ और कड़ी मेहनत करो। किसी न किसी दिन तुम्हारा व्यवसाय तुम्हें अमीर आदमी बना देगा। आज के समय कंपटीशन ज्यादा है। इसके बावजूद भी अगर आप का चुनाव और आपकी मेहनत सही ढंग से हो रही है तो आपको पीछे धकेलने वाला दुनिया में कोई नहीं पैदा हुआ।

रमेश की आंखों से आंसू नहीं थम रहे थे वह शॉर्टकट रास्ते से अमीर बनना चाहता था। इसलिए वह कभी अमीर नहीं बन सका। जीवन राम ने कड़ी मेहनत और लगन से अपना काम किया। उसे अमीर बनने की चिंता ही नहीं थी। वह लोगों को ईमानदारी से अपना सामान बेचता था। जिसके फलस्वरूप आज वह करोड़पति बन गया था।
जिंदगी में सफल होने के लिए दुनिया में ऐसा कोई शॉर्टकट नहीं है जो किसी भी इंसान को सफल बना सके। कड़ी मेहनत, ईमानदारी और लगन ही ऐसी चीजें हैं जो इंसान को किसी न किसी दिन अमीर जरूर बना देतीं हैं।
धन्यवाद!

Anjali Kushawaha

Kanpur, Uttar Pradesh

यदि आपके पास हिंदी में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी ईमेल आई डी है: [email protected]. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ प्रकाशित करेंगे. धन्यवाद!


Spread the love

4 thoughts on “Hard Work – The Most Powerful Way to Get Rich Hindi Story (कड़ी मेहनत – अमीर बनने का सबसे पावरफुल रास्ता हिन्दी कहानी )”

Leave a Comment