Truth Manthan

Hamari Adhuri Kahani – तीन कहानियां

Spread the love

Hamari Adhuri Kahani जिंदगी का सबसे दर्द है। जिसका आभास सिर्फ उन्ही को होता है जो इस स्थिति से गुजरते हैं। प्रेम के साथ-साथ इसमें आपको बहुत कुछ सीखने को मिलता है। कुछ लोग तो प्यार से नफ़रत ही करने लगते हैं। आज मैं आपके लिए तीन ऐसी ही Hamari Adhuri Kahani लेकर aayaa हूँ जो शायद आपको कुछ एहसास कराने में कामयाब रहेंगी। आइये पढ़ते हैं उन तीन Hamari Adhuri Kahani कहानियों को-

Hamari Adhuri Kahani-1

क्या मेरी मोहब्बत अधूरी है

मेरे और उनके कहने सुनने का मिलन ना हो पाया

ना मैं दर्द की खामोशियां बता पाया ना वो अल्फाज समझ पाई

उनके निगाहें बार-बार बरसता रहा

मै प्यार का इजहार करता रहा

ना मैं खुद को पढ़ पाया ना वह मुझे लिख पाई

गलती ना मेरी थी ना रब की

जब प्यार ही बसा था सपनों में, मैं उनमें ही रहा

हसीं और न्यारा प्यास लगी , उस देवी कि कुछ ऐसे मजबूरी

सपने की कहानी संघर्ष रह गई, हमारी मोहब्बत की कहानी भी अधूरी रह गई।

सुनीता वर्णवाल, झुमरी तलैया 

Hamari Adhuri Kahani-2

मेरी कहानी भी अधूरी रह गई…

उस कमबख़्त ने मुहब्बत के ख्वाब दिखाकर

समंदर जितना गम दे दिया…

सपनों का शहजादा आया था उसने हल्के से मेरा दिल चुराया था

और धीमे से अपनी मोहब्बत का इजहार किया था…

उसकी झूठी सी बातें शहजादी को मोहब्बत से भी ज्यादा हसीन लगती थी…

शहजादी को यकीन था पहले से ही

ये मुहब्बत या तो झूठ हैं

या फिर ये गम जमाने भर का देकर जाएगी…

कैसे हो यकीन

भला असली में शहजादा होता हैं….ये मूर्ख सी मुहब्बत थी

जिसमें पागलपन था मासूम सा…

अब यकीन ने हकीकत़ से रुबरु करवाया

मुहब्बत ने इश्क़ में तड़पना सिखाया …

मेरी इकतरफा मोहब्बत अधूरी सी रह गई…

कभी कुछ लिखते हैं कभी कुछ…क्योंकि शब्द तो पूरे हैं

लेकिन थोड़े खवाब अधूरे है

तो कुछ कहानीयां अधूरी है

———यहाना

Hamari Adhuri Kahani-3

वो उस रोज तुम्हारा मुझे मैसेज करना और मेरा तुम्हे जवाब देना.…..और फिर चल पड़ा यूं ही हमारी बातों का सिलसिला।।।

वो रोज- रोज तुम्हारा बातें करना और मेरा तुम्हे सुनते रहना…..और सुनते- सुनते तुम्हारी बातों में खो जाना।।।

वो रोज – रोज तुम्हारा हंसी – ठिठोली करते रहना…..और मेरा मुस्कुराते हुए तुम्हारी हंसी में खो जाना।।।

वो रोज – रोज तुम्हारा मुझे परेशान करना……और मेरा परेशान हो जाना।।।

वो रोज – रोज मेरा तुम्हारी आंखों में देखते रहना….और तुम्हारा मेरी आंखों में खो जाना….और फिर मेरा शर्माकर पलकें झुका लेना।।।

वो किसी रोज मेरा गुमसुम सा रहना….और आंखों में देखकर मेरे मन की सारी बातें जान लेना।।।

वो किसी रोज मेरा खुशी से चहकते रहना….और बिना वजह जाने ही तुम्हारा खुश हो जाना।।।

वो कब मेरा – तुम्हारा से हर चीज हमारी हो जाना…… मेरी हर परेशानी का हल होता था न तुम्हारे पास ।।।

कितना जानने लगे थे न हम एक – दूसरे को..… फिर क्यों रह गई हमारी “अधूरी कहानी”………

रागिनी सिंह, रीवा, मध्य प्रदेश

यदि आपके पास हिंदी में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी ईमेल आई डी है: [email protected]. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ प्रकाशित करेंगे. धन्यवाद!


Spread the love

203 thoughts on “Hamari Adhuri Kahani – तीन कहानियां”

  1. Pingback: ivermectil for pah
  2. I was wondering if you ever considered changing the
    layout of your site? Its very well written; I love what youve got to say.
    But maybe you could a little more in the way of content so
    people could connect with it better. Youve got an awful lot of
    text for only having one or two images. Maybe you could space it out better?

  3. This is a very good tip especially to those fresh to the blogosphere.
    Brief but very accurate info… Appreciate your sharing this one.
    A must read post!

  4. I am extremely impressed with your writing skills and also with the
    layout on your weblog. Is this a paid theme or did you customize it
    yourself? Anyway keep up the excellent quality writing, it’s rare to see a
    nice blog like this one today.

  5. Attractive part of content. I simply stumbled upon your website and in accession capital to say that I acquire in fact
    enjoyed account your weblog posts. Anyway I will be subscribing for your augment or even I fulfillment you get entry to constantly
    rapidly.

  6. Howdy, i read your blog from time to time and i own a similar one and i was
    just curious if you get a lot of spam comments? If so how do you stop it, any plugin or anything you can suggest?

    I get so much lately it’s driving me insane so any assistance is very much appreciated.

  7. Whoa! This blog looks just like my old one! It’s on a totally
    different topic but it has pretty much the same layout and
    design. Outstanding choice of colors!

  8. Definitely imagine that which you stated. Your favorite reason seemed
    to be on the net the simplest factor to take
    note of. I say to you, I certainly get annoyed even as other people think about issues
    that they plainly don’t understand about. You managed
    to hit the nail upon the top and defined out the whole thing without having side effect , other folks can take a signal.

    Will probably be again to get more. Thanks

  9. “I haven’t seen you in these parts,” the barkeep said, sidling during to where I sat. “Personage’s Bao.” He stated it exuberantly, as if word of his exploits were shared by means of settlers around assorted a verve in Aeternum.

    He waved to a wooden tun apart from us, and I returned his indication with a nod. He filled a field-glasses and slid it to me across the stained red wood of the bar prior to continuing.

    “As a betting chains, I’d be ready to wager a fair bit of coin you’re in Ebonscale Reach for the purpose more than the wet one’s whistle and sights,” he said, eyes glancing from the sword sheathed on my hip to the bend slung across my back.

    http://www.google.com.hk/url?q=https://renewworld.ru/budet-li-russkiy-yazyk-v-new-world/

  10. Hello there I am so glad I found your blog page,
    I really found you by error, while I was looking on Bing for something else, Anyhow I am here now and would just like to say thanks for a incredible post and a all round interesting blog (I also
    love the theme/design), I don’t have time to look over it all at the minute but I have book-marked it and also added your RSS feeds, so when I have time
    I will be back to read a lot more, Please do keep up the
    superb work. ps4 https://tinyurl.com/45xtc52b ps4 games

Leave a Comment