Truth Manthan

रामराज्य : BJP’s Ram Rajya Conspiracy to Snatch Away the Rights of Shudras and Women

Spread the love

रामराज्य: हमारे देश में जब से भाजपा की सरकार बनी है। तब से राम राज्य लाने की बात की जा रही है। राम राज्य के चक्कर में देश के ऐसे हालात हो गए हैं कि पढ़े लिखे लोग भी फुटपाथ पर भीख मांगते दिखाई दे रहे हैं। हमारे सरकारी संस्थाएं प्राइवेट कर दी गई हैं। 2 करोड़ रोजगार हर वर्ष देने वाली सरकार ने अभी तक 50,000 से ज्यादा लोगों की नौकरियां छीन ली है। जबकि बेरोजगारी इतनी ज्यादा बढ़ गई है इसका वर्णन नहीं किया जा सकता। जीडीपी -23.9 हो गई है। पूरे देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है।

रामराज्य की बात करने वाली भाजपा सरकार को अब रामराज्य नहीं याद आ रहा है। दलितों और मुसलमानों पर भारी संख्या में जुल्म किए जा रहे हैं। लोगों को दिनदहाड़े कत्ल किया जा रहा है। गोलियों से भूना जा रहा है। इतना ही नहीं बहू बेटियों की इज्जत को भी लूटा जा रहा है। क्या यही रामराज्य है ? अगर ऐसा ही रामराज्य होता है तो इस रामराज्य को कौन पसंद करेगा। कौन चाहेगा इस तरह का रामराज्य आए। महंगाई खत्म करने की बात करने वाली भाजपा सरकार में इतनी ज्यादा महंगाई हो गई है कि आम आदमी का जीना दूभर हो गया है। पेट्रोल और डीजल के दामों में इतनी ज्यादा बढ़ोतरी कर दी गई जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है। किसान आत्महत्या करने पर मजबूर हैं।

अब हम थोड़ी बात रामराज्य पर भी कर लेते हैं। सतयुग में राम का जन्म हुआ था। क्या उस समय दलितों और गरीबों पर जुल्म नहीं किए जाते थे। राम को भगवान विष्णु का अवतार बताया जाता है। क्या भगवान के पास दूरदर्शिता नहीं होती है ? अगर दूरदर्शिता नहीं है तो उसे कैसे भगवान मान लिया जाएगा। मैं उसी के कुछ उदाहरण बताने जा रहा हूं।

ये भी पढ़ें :

भाजपा सरकार में चरम पर पहुंची जाति पांति और छुआछूत की महामारी

जब राम बनवास में थे उस समय एक राक्षस रूपी मृग के पीछे अपनी पत्नी सीता के कहने पर उसकी हत्या करने को चले गए थे। भगवान होते हुए क्या उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं हुआ कि वह मृग एक राक्षस है। इतना तो सभी जानते हैं कि सोने का मृग कैसे हो सकता है। आज के समय में अगर बच्चे से भी पूछा जाए तो वह भी इसका जवाब दे देगा कि सोने का हिरण होना असंभव बात है। लेकिन यह छोटी सी बात भगवान कहे जाने वाले राम के समझ में क्यों नहीं आई। दूसरी बात क्या अपनी पत्नी की शोभा बढ़ाने के लिए किसी जानवर की हत्या करना उचित है। इंसान के लिए ऐसा हो सकता है मगर भगवान के लिए कदापि ऐसा उचित नहीं है।

अगर राम भगवान थे तो उन्हें इस बात का पता जरूर होना चाहिए था। इसके अलावा भगवान होते हुए भी राम इस बात को नहीं जान पाए की वह हिरण एक राक्षस है और अगले ही पल उनकी पत्नी का अपहरण होने वाला है। क्या इतनी दूरदर्शिता राम के पास नहीं थी ? अगर नहीं थी तो उन्हें कैसे भगवान माना जा सकता है। सुग्रीव से मित्रता करते समय बालि को राम ने धोखे से मार दिया। क्या उनके पास इतनी शक्ति नहीं थी जो बालि से लड़ कर उसे मार सकते। अगर बालि गलत था तो उसे सरेआम मारना कोई गलत बात नहीं थी। मगर धोखे से मारना भगवान के लिए कैसे उचित हो सकता है।

जब राम भगवान थे तो उन्हें इस चीज का पता नहीं चल सका कि सीता का हरण किसने किया है। इसलिए पशु पक्षियों और जंगली जानवरों से पूछते घूमते रहते हैं। और पूंछते है कि क्या तुम ने सीता को देखा है ? ऐसे व्यक्ति को भगवान कहा जा सकता है। अगर राम वास्तव में भगवान थे तो लंका में जाकर सीधे रावण को क्यों नहीं खत्म किया। क्यों बानरों की मदद लेनी पड़ी। अपने स्वार्थ के लिए लाखों की संख्या में बंदरों को मौत के घाट युद्ध में उतरवा दिया। क्या ऐसे व्यक्ति को भगवान माना जा सकता है ? इसके बाद किसी भी आदमी के भाई को अपने बस में करने के बाद उसकी हत्या करना यह कहां की इंसानियत है। क्या भगवान ऐसा ही करता है। भगवान जब खुद अपनी पत्नी पर विश्वास नहीं कर पाता है तो वह लोगों के लिए भगवान कैसे बन सकता है।

ये भी पढ़ें :

भारत की आजादी के 73 साल बाद भी अनुसूचित जाति, जनजाति व अन्य पिछडा वर्ग के लोग अपने अधिकारों से वंचित क्यों ?

एक आम आदमी के कहने पर अपनी गर्भवती पत्नी को जंगल में भेज देना कहां की इंसानियत है। सभी परीक्षाओं के बाद भी सीता को जंगल भेज दिया क्योंकि राम को विश्वास ही नहीं था कि सीता राम से गर्भवती हुई हैं या रावण से। अगर राम भगवान ही थे तो उन्हें किस बात का डर था। एक ब्राह्मण के कहने से एक मासूम ऋषी को मौत के घाट स्वयं उतार दिया। क्या उसके मंत्र जाप करने से राम के राज्य में आपदा आ सकती थी। अगर ऐसा ही था तो राम को भगवान कैसे माना जा सकता है। इसके बाद सीता को जब जंगल में भेजा गया तो सीता से एक पुत्र का जन्म हुआ लेकिन दूसरा पुत्र कहां से आ गया। क्या ऐसा संभव है कि किसी लकड़ी या कूड़े से बच्चे को बनाया जा सकता है ? अगर इतनी ही उस समय के ऋषि-मुनियों में ताकत थी तो उन्हें श्रृंगी ऋषि से डर क्यों उत्पन्न हुआ और उन्हें राम द्वारा क्यों मरवा दिया।

अगर ऐसा ही रामराज होता है तो मैं तो ऐसे राम राज्य को लाने के कभी भी पक्ष में नहीं रहूंगा। जहां इंसान को इंसान नहीं माना जाता है। चार चार वर्णों में बांटा जाता है। महिलाओं को शिक्षा ग्रहण करने का अधिकार नहीं दिया जाता। ऐसे रामराज्य का क्या मतलब है। आज हमारे देश की महिलाएं देश में ही नहीं विदेशों में भी हमारे देश का नाम रोशन करती हैं। अगर रामराज्य होता तो क्या वह ऐसा कर पातीं। राम राज्य में किसी भी महिला को पढ़ने लिखने का अधिकार नहीं था। मनुस्मृति के अनुसार महिलाओं और शूद्रों को पढ़ने का अधिकार नहीं है। ऐसे रामराज्य से क्या देश का भला हो सकता है। ऐसे व्यक्ति को भगवान मान लेना जो स्वयं अपना निर्णय भी स्वेच्छा से नहीं ले सकता क्या उचित है।

ये भी पढ़ें :

अगर अभी नहीं जागे तो आने वाली पीढ़ियां गुलाम बनकर जियेंगी

जब राम को भगवान ही माना जाता है तो उनकी पूरी कहानी में कहीं भी दूरदर्शिता का वर्णन क्यों नहीं किया गया। शास्त्रों के अनुसार भगवान सब कुछ देखता है। चाहे वह भूतकाल का हो वर्तमान काल या फिर भविष्य काल। राम को यह सब क्यों नहीं दिखाई दिया। अगर रावण वास्तव में पापी और अत्याचारी था तो उसे मारने के लिए यह रास्ता ही क्यों उचित लगा की उसने सीता का हरण किया और उसे मार दिया गया। इस समय क्या ऐसा किया जाता है। केवल कोई किसी की पति का हरण कर ले तो उसे मृत्युदंड दे दिया जाएगा। इसका कारण यह भी हो सकता है की वह स्त्री अपनी स्वेच्छा से भी दूसरे पुरुष के साथ जा सकती हैं।

रामराज्य का बखान करने वाली भाजपा सरकार इसी तरह से महिलाओं और शूद्रों (अनुसूचित जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जनजाति) के उनके पूरे अधिकार छीन कर उन्हें पुनः गुलाम बनाना चाहती है। इसी को रामराज्य माना जाएगा। क्या इसीलिए पूरा देश रामराज्य लाने के इंतजार में बैठा है। अगर इस इंतजार में बैठा है तो हमारे देश की 85% आबादी गुलामी की जिंदगी जीने के लिए मजबूर हो जाएगी। शूद्रों को इस बात को सोचना चाहिए और महिलाएं जो किसी भी जाति या धर्म की हो उनको भी इस बात पर जरूर सोचना चाहिए। क्योंकि राम राज्य में किसी भी महिला को स्वतंत्र रूप से जीने की आजादी नहीं थी। पढ़ने की आजादी नहीं थी। अगर ऐसा ही राम राज्य लाने की कल्पना की जा रही है तो महिलाओं और शूद्रों को इसका विरोध जरूर ही करना चाहिए। ऐसा राम राज्य शूद्रों और महिलाओं के लिए भाजपा का इन लोगों को गुलाम बनाने का षडयंत्र है।

Pooja Valmiki
Mumbai, Maharashtra
Independent writer

यदि आपके पास हिंदी में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी ईमेल आई डी है: [email protected]. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ प्रकाशित करेंगे. धन्यवाद!


Spread the love

189 thoughts on “रामराज्य : BJP’s Ram Rajya Conspiracy to Snatch Away the Rights of Shudras and Women”

  1. Aw, this was a really nice post. Taking the time and actual effort
    to make a top notch article… but what can I say… I put things off a whole lot and never manage to get nearly anything done.

  2. It is the best time to make a few plans for the future and
    it is time to be happy. I’ve learn this publish and if I may I want
    to suggest you some attention-grabbing things or advice.
    Perhaps you could write next articles relating to this article.
    I desire to learn even more things approximately
    it!

  3. Appreciating the hard work you put into your site and
    detailed information you provide. It’s good to come
    across a blog every once in a while that isn’t the same unwanted
    rehashed information. Wonderful read! I’ve bookmarked your site
    and I’m including your RSS feeds to my Google account.

  4. Howdy! I know this is kinda off topic however , I’d figured I’d ask.

    Would you be interested in trading links or maybe guest writing a blog
    post or vice-versa? My site covers a lot of the same topics as yours and I think we could greatly benefit from each
    other. If you might be interested feel free to shoot me an email.
    I look forward to hearing from you! Excellent blog by
    the way!

  5. Greetings from Colorado! I’m bored to tears at work so I decided to check out your blog on my iphone during lunch break.
    I enjoy the info you provide here and can’t wait
    to take a look when I get home. I’m surprised at how fast your blog loaded on my mobile ..
    I’m not even using WIFI, just 3G .. Anyways, amazing site!

  6. I am extremely inspired with your writing abilities as neatly as with
    the layout for your blog. Is that this a paid
    subject or did you customize it your self? Anyway stay up the nice high
    quality writing, it’s uncommon to peer a nice blog like this one
    today..

  7. The other day, while I was at work, my sister stole my iPad and tested to see if it can survive a 25 foot
    drop, just so she can be a youtube sensation. My iPad is
    now destroyed and she has 83 views. I know this is entirely off topic but I had to share it with someone!

  8. It’s the best time to make some plans for the future and it
    is time to be happy. I’ve read this post and if I could I
    wish to suggest you few interesting things or suggestions.
    Maybe you could write next articles referring to this article.

    I desire to read even more things about it!

  9. I have been browsing online more than 3 hours today, yet I never
    found any interesting article like yours. It’s pretty worth enough for me.
    In my view, if all web owners and bloggers made good content as you did, the
    net will be a lot more useful than ever before.

  10. Hola! I’ve been following your weblog for some time
    now and finally got the courage to go ahead and give you a shout out from Lubbock Texas!
    Just wanted to tell you keep up the fantastic job!

  11. Greetings from Ohio! I’m bored to death at work so I decided
    to check out your blog on my iphone during lunch break.
    I love the information you present here and can’t wait to take a look
    when I get home. I’m shocked at how quick your blog loaded on my mobile ..
    I’m not even using WIFI, just 3G .. Anyhow, wonderful site!

  12. I’ve been browsing online more than 4 hours today, yet I never found
    any interesting article like yours. It is pretty worth enough for me.
    In my opinion, if all site owners and bloggers made good content as you did,
    the internet will be much more useful than ever before.

  13. It’s appropriate time to make some plans for the future and it is
    time to be happy. I’ve read this post and if I could I desire to suggest you few interesting things or suggestions.
    Perhaps you could write next articles referring to this article.
    I want to read even more things about it!

  14. I’ve been surfing online more than 3 hours today, yet I never found any interesting article like yours.
    It’s pretty worth enough for me. In my view, if all site owners and bloggers
    made good content as you did, the internet will be much more useful than ever before.

  15. Hello there! Do you know if they make any plugins to help with SEO?
    I’m trying to get my blog to rank for some targeted keywords but I’m not
    seeing very good success. If you know of any please share.
    Thank you!

  16. you’re actually a good webmaster. The site loading speed is incredible.
    It sort of feels that you’re doing any unique trick. Also,
    The contents are masterpiece. you’ve performed a
    fantastic activity in this matter!

  17. I think that is one of the most vital info for me.
    And i’m happy studying your article. However should commentary on some basic issues, The site taste
    is wonderful, the articles is in point of fact great :
    D. Excellent job, cheers

  18. You’re so interesting! I do not suppose I have read through anything like this
    before. So wonderful to discover another person with unique thoughts on this topic.
    Really.. many thanks for starting this up. This website is
    one thing that is required on the internet,
    someone with a bit of originality!

  19. Great weblog here! Additionally your web site quite a bit up fast!
    What host are you the usage of? Can I get your associate hyperlink on your
    host? I wish my web site loaded up as fast as yours lol

  20. I’m very pleased to discover this site. I want to to thank you for your time just for this fantastic
    read!! I definitely liked every part of it and i also have you saved
    as a favorite to check out new stuff in your website.

  21. Yesterday, while I was at work, my sister stole my iPad and tested to see if
    it can survive a 40 foot drop, just so she can be a youtube sensation. My apple ipad is now destroyed and she has 83 views.
    I know this is completely off topic but I had to share it with someone!

  22. With havin so much content and articles do you ever run into
    any issues of plagorism or copyright violation? My website has a lot of unique content
    I’ve either authored myself or outsourced but it seems a lot of it is popping it up
    all over the internet without my agreement.
    Do you know any methods to help protect against content from being ripped off?

    I’d genuinely appreciate it.

  23. An impressive share! I’ve just forwarded this onto a colleague who has been conducting
    a little homework on this. And he actually ordered me breakfast because I found it for him…
    lol. So allow me to reword this…. Thanks for the meal!!
    But yeah, thanks for spending time to discuss this
    topic here on your website.

  24. I’ve been surfing online more than 4 hours today, yet I never found any interesting
    article like yours. It is pretty worth enough for me.
    In my opinion, if all site owners and bloggers made good content
    as you did, the net will be much more useful than ever before.

  25. I will right away take hold of your rss feed as I can’t find your e-mail subscription hyperlink or e-newsletter service.
    Do you’ve any? Kindly allow me recognise in order that I may subscribe.
    Thanks.

  26. We absolutely love your blog and find most of your post’s to be precisely what I’m looking for.
    can you offer guest writers to write content to suit your needs?
    I wouldn’t mind publishing a post or elaborating on some of the subjects you write concerning here.
    Again, awesome blog!

  27. Pingback: buy viagra at cvs

Leave a Comment